शनिवार, 20 जून 2020

आखिर क्यों दुनिया में हर 100 साल के अंतराल में आती है महामारी?

आखिर क्यों दुनिया में हर 100 साल के अंतराल में आती है महामारी क्यों 20 के आंकड़े का साल दुनिया के लिए महामारी का कारण बनता है दोस्तों आज पूरी दुनिया को रुला देने और कहर मचा देने वाले कोरोना का पूरी दुनिया के साइंटिस्ट रात दिन कोरोनावायरस का इलाज खोजने में लगे हुए हैं मगर फिर भी सफलता नहीं प्राप्त कर पाए आज हम इतने एडवांस टेक्नोलॉजी के साए में होते हुए भी कोरोनावायरस का इलाज नहीं खोज पाए तो जरा सोचो आज से सैकड़ों साल पहले किसी वायरस की महामारी का इलाज कैसे होता होगा आप दुनिया का इतिहास उठाकर देख लीजिए आपको बहुत सी ऐसी घटना मिलेगी जिस वजह से करोड़ों लोग मौत के मुंह में चले गए थे लेकिन अब हम आपको जो जानकारी बताने जा रहे हैं उससे आप एक संयोग मात्र ही कह सकते हैं क्योंकि हर 100 साल पर लोट कर आती है एक महामारी | 


जिस तरह आज पूरी दुनिया को रोना की चपेट में आई है हर 100 साल में इंसानों को एक नई महामारी की दवा खोजनी पड़ती है ऐसा एक बार नहीं बल्कि पिछले 400 सालों से होता रहा है लगातार 400 सालों से महामारी पूरी दुनिया में अपना कहर मचाती है हालांकि इसमें एक बात कॉमन रही है वह हर सदी में 20 का आंकड़ा जैसे इस बार 2020 का आंकड़ा वैसे ही 1720 1820 और 1920 में महामारी हो चुकी हैं आइए जानते हैं इन 400 सालों में किस-किस महामारी हो ने कितने लोगों को मौत के घाट उतारा है और दोस्तों मैं हूं आपका दोस्त राहुल सिंह चौहान आप पढ़ रहे हैं  Pageofhistroy दोस्तों साल 1720 में से एक का अटैक सबसे पहले शुरुआत करते हैं दुनिया में फैली सबसे पहली महामारी के



Plague -प्लेग

साल 1720 जब पूरी दुनिया में प्लेग Plague फैल गया था इसे  ग्रेट प्लेगऑफ मर्शिले कहा जाता है मर्शिले फ्रांस का एक शहर है उस वक्त दुनिया में इतनी ज्यादा जनसंख्या नहीं थी फिर भी आप इस बात को जानकार अंदाजा लगा सकते हैं कि  मर्शिले में पहली फ्लाइट की वजह से 100000 लोगों की मौत हुई थी प्लेग फैलते ही कुछ महीनों में 50000 लोग मारे गए बाकी 50000 लोग अगले 2 सालों में मर गए उस वक्त लाशों का कोहराम मच गया था| साल 1807 में यह महामारी चाइना के अंदरूनी इलाकों में अपना पैर पसार चुकी थी चाइना से ही यह बीमारी भारत में पहुंची भारत में इस बीमारी की शुरुआत 1890  में हुई इसमें चाइना से ज्यादा कोहराम भारत में मचाय भारत में इस महामारी ने बड़ी संख्या में लोगों को चपेट में ले लिया फोटो में दिख रहा है कलाकार मिशेल शेर की बनाई हुई पेंटिंग इसमें उन्होंने दिखाने कोशिश की कि कैसे प्लेग ने कितने लोगों को मार डाला था 



Plague




Cholera-1820 में कोलेरा की महामारी 1720 ईस्वी के ठीक 100 साल बाद 1820 में कोलेरा नाम की महामारी ने दुनिया में अपना कोहराम मचाया था| 1820 में कोलारा ने एशियाई देशों में महामारी का रूप लिया इस महामारी में जापान खाड़ी के देश भारत,बैंकॉक,जावा,भूटान,चाइना,मॉरीशस,सीरिया इन सभी देशों को अपनी जकड़ में ले लिया कोलेरा की वजह से जावा में 100000 लोगों की मौत हुई थी |  सबसे ज्यादा मौतें थाईलैंड,फिलिपीन,इंडोनेशिया में हुई थी इस महामारी ने बड़ी संख्या में लोगों की ज़िंदगी को छीन लिया था | 



Cholera





Spanish Flu -1920 में स्पेनिश फ्लू का हमला कोलेरा  बीमारी के ठीक 100 साल बाद एक नई बीमारी स्पेनिश फ्लू का कहर बरसा वैसे यह पहला तो 1918 से ही था लेकिन इसका सबसे ज्यादा असर  1920 में देखने को मिला जब प्रथम विश्व युद्ध की शुरुआत हुई थी | तब स्पेनिश फ्लू ने भी अपना असर दिखाना चालू कर दिया प्रथम विश्व युद्ध में जितने लोग मारे गए उसकी दोगुना लोगों को स्पेनिश फ्लू ने अपने चपेट में ले लिया था | कहा जाता है कि फ्लू की वजह से पूरी दुनिया में 5 करोड लोग मारे गए थे | इस संक्रमण ने भारत में दो करोड़ की गरीब लोगों की जान ले ली थी | इनमें से पंजाब जो कि आज के पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश और पाकिस्तान पंजाब को मिलाकर 800000 लोगों की मौत हो गई थी | यह मानव इतिहास की सबसे भीषण महामारीओं में से एक मानी जाती है 




Spanish Flu





अब आई साल 2020 की कोरोना वायरस की महामारी 

लोग कोरोना COVID-19 का नाम सुनकर ही सहम जाते है है | चाइना के वुहान शहर से शुरू हुई ये बीमारी आज पूरी दुनिया में फैल चुकी है | आज इस महामारी से लाखों लोग संक्रमित हो चुके हैं और हजाCCरों लोग इसमें मारे जा चुके हैं | और अब Covid-19 कोरोना बीमारी लोगों को अपना शिकार बनाती जा रही है |  वैज्ञानिक दिन-रात इसका टीका बनाने में लगे हुए हैं मगर आज तक सफलता हाथ नहीं लगी आज पूरी दुनिया में घरों में कैद है घरों से बाहर निकलना तक मुश्किल हो गया है | इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब पूरी दुनिया के लोग घरों में कैद है | दोस्तों यह महामारी हर 20 साल से ही क्यों हुई है इनका इसी साल में असर क्यों होता है इन बातों को वैज्ञानिक किसी भी तरीके से साबित नहीं कर पाए लेकिन महामारियों  के मामले में यह 20 के आंकड़े का साल एक रहस्यमई साल माना जाता है अब इसके बारे में आपकी क्या राय है अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर दें | 




COVID-19



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Featured post

Bramha Vishnu Mahesh Main Sabse Bada Kon Hai?

हेलो दोस्तों तो स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग History Of India In Hindi - Pageofhistory में कहते हैं देवताओं में त्रिदेव का सबसे अलग स्थान प्...

Popular Posts